No Widgets found in the Sidebar

पश्चिम बंगाल की सीएम और टीएमसी प्रमुख ममता बनर्जी ने अपनी पार्टी की सांसद महुआ मोइत्रा को नसीहत दी है। बनर्जी ने कहा कि कुछ कहने से पहले लोगों की भावनाओं को समझना होगा। ममता बनर्जी ने टीएमसी सांसद महुआ मोइत्रा को इशारों में ही नसीहत देते हुए कहा कि, लोगों की भावनाओं को समझना जरूरी है.

एक बार नेताजी सुभाष चंद्र बोस ने कहा था कि भूल करने के लिए लिखो, जो काम करता है उससे गलती हो सकती है। इसे ठीक किया जा सकता है, लेकिन इसके लिए चिल्लाना क्यों? पश्चिम बंगाल की सीएम ने कहा कि समाज में कई समूह होते हैं।

ममता बनर्जी ने यह भी कहा कि, कभी कभी मुझे लगता है कि, हम हमेशा किसी नकारात्मक मुद्दे पर विवाद पैदा करने पर जोर देते हैं. लेकिन हम देखते हैं रोज कुछ ना कुछ अच्छे काम भी हो रहे हैं. मीडिया में कभी उन खबरों को नहीं दिखाया जाता है. इसका लगातार विरोध हो रहा है। लीना के खिलाफ भी मप्र, दिल्ली और यूपी में केस दर्ज कराए गए हैं।

डॉक्यूमेंट्री फिल्म ‘काली’ के पोस्टर को लेकर विवादित बातें कही थीं। मोइत्रा ने कहा था कि काली के कई रूप हैं। मेरे लिए काली का मतलब मांस और शराब ग्रहण करे वाली देवी से है।इस बयान को लेकर देशभर में बवाल मच गया था।

 

 

By admin