No Widgets found in the Sidebar

नूपूर शर्मा के समर्थन में एक पोस्ट की वजह से राजस्थान के उदयपुर में एक टेलर कन्हैयालाल की बर्बरता से हत्या कर दी गई। गला रेतकर की गई नृशंस हत्या की जांच में अब तक जो खुलासे हुए हैं वे बेहद चौंकाने वाले हैं।हत्या के मामले में पाकिस्तान के दावत-ए-इस्लामी संगठन का नाम सामने आया है।

दोनों हत्यारे इस संगठन से जुड़े थे। हत्यारा गौस मोहम्मद 2014 में पाकिस्तान गया था। तब वह 45 दिन तक वहां रहा।दावत-ए-इस्लामी एक सुन्नी इस्लामिक संगठन है। इसका गठन पाकिस्तान में 1981 में मोहम्मद इलियास अत्तार कादरी ने किया था।

इसका मुख्यालय कराची में है। ये संगठन दुनिया के 194 देशों में फैला हुआ है। ये संगठन सुन्नी मुसलमानों के बरेलवी समुदाय से जुड़ा है। इस समुदाय के ज्यादातर लोग भारत और पाकिस्तान में रहते हैं।

हत्याकांड का पाकिस्तान से भी लिंक सामने आया है। घटना को अंजाम देने वाले दो आरोपियों का कनेक्शन काराची बेस्ड सुन्नी इस्लामिक संगठन दावत-ए-इस्लामी से सामने आया है। इसका पाकिस्तान के कट्टरपंथी संगठन तहरीक-ए-लब्बैक से भी है। जांच से जुड़े लोगों ने यह जानकारी दी है।

By admin