No Widgets found in the Sidebar

उत्तराखंड में मानसून के दस्तक देने से एक बार फिर न सिर्फ आम लोग बल्कि तीर्थयात्रियों को भी मुसीबत का सामना करना पड़ रहा हैं   भूस्खलन के कारण सड़कों के बंद होने का सिलसिला मानसून के साथ एक बार फिर  शुरू हो गया है। क्रॉनिक लैंड स्लाइड जोन ज्यादा दिक्कतें पैदा कर रहे हैं।

ऐसे में यमुनोत्री हाईवे खनेड़ा के पास चट्टान दरकने के कारण अवरुद्ध हो गया था।  यमुनोत्री धाम जाने व आने वाले तीर्थयात्री हाईवे खुलने का इंतजार कर रहे थे।हाईवे पर सुबह से यातायात ठप था।

एनएच की कई मशीनें हाईवे खोलने में जुटी रही।एनएच ने तीर्थयात्रियों की आवाजाही के लिए हाईवे को जल्द खोलने का दावा किया थ। छह घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद हाईवे पर यातायात एक बार फिर से शुरू किया जा सका। राज्य आपातकालीन परिचालन केंद्र के अनुसार, भारी वर्षा से कुछ जिलों में पेयजल विद्युत आपूर्ति बाधित हुई है, जिन्हें सुधारने का काम किया जा रहा है।

इसके अलावा नदियों के जलस्तर में भी बढ़ोतरी दर्ज की गई है।यमुनाघाटी क्षेत्र में देर रात से रुक रुक कर बारिश का सिलसिला जारी है। जिला आपदा प्रबंधन अधिकारी देवेंद्र पटवाल ने बताया कि हाईवे खोल दिया गया है और यातायात सुचारु कर दिया गया है।

By admin