No Widgets found in the Sidebar

कोरोना की नई लहर की सबसे ज्यादा मार महाराष्ट्र, केरल और दिल्ली में पड़ रही है.अब तक 4,00,71,393 लोग एहतियाती खुराक ले चुके हैं। पुणे में 31 साल की एक महिला BA.5 से संक्रमित मिली थी. मुंबई में BA.4 से संक्रमित तीन मरीज सामने आए थे. महाराष्ट्र में पहली बार  BA.4 और BA.5 के मामले सामने आए थे. तब चार मरीजों में BA.4 और तीन में BA.5 की पुष्टि हुई थी.

ऐसे में केंद्र सरकार के टीकाकरण को लेकर गठित राष्ट्रीय तकनीकी सलाहकार समूह (एनटीएजीआई) के प्रमुख डॉ. एनके अरोड़ा ने कहा कि देश के 90 फीसदी रोगी अभी भी खुद को असुरक्षित नहीं मान रहे हैं।

कोविन वेबसाइट से प्राप्त आंकड़ों के अनुसार, देश में 60 वर्ष या उससे अधिक आयु के 15% बुजुर्ग अब तक एहतियाती खुराक हासिल कर चुके हैं लेकिन 18 से 59 वर्ष के बीच खासतौर पर 40 से कम आयु वर्ग वालों की संख्या अब तक एक फीसदी भी नहीं पहुंची है।

देश के नए मामलों में से 70 फीसदी मामले इन्हीं तीन राज्यों से हैं. लेकिन, कोरोना के नए मामलों में तेजी आने की वजह क्या है? तो इसकी वजह ओमिक्रॉन और उसके सब-वैरिएंट्स हैं.

By admin