No Widgets found in the Sidebar

362 ट्रेनें निरस्त रही थीं। इससे यात्रियों को खासी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। बिहार में भी भारत बंद का असर देखने को मिल सकता है। बीते 5 दिनों से राज्य के कई इलाकों में हिंसक प्रदर्शनों से जनजीवन अस्तव्यस्त है। उपद्रवियों को इसमें भर्ती नहीं दी जाएगी।वायुसेना ने भर्ती की विस्तृत जानकारी भी साझा की। इसमें बताया गया है कि अग्निवीरों को सालाना 30 दिन की छुट्टी मिलेगी।

सोमवार को कैमूर, भोजपुर, औरंगाबाद, रोहतास, बक्सर, नवादा, पश्चिम चंपारण, समस्तीपुर, लखीसराय, बेगूसराय, वैशाली, सारण, मुजफ्फरपुर, मोतिहारी, दरभंगा, गया, मधुबनी, जहानाबाद, खगड़िया और शेखपुरा जिले में इंटरनेट पर रोक रहेगी।थल सेना, नौसेना और वायुसेना के प्रतिनिधियों ने रविवार को अग्निपथ के तहत भर्ती का विस्तृत कार्यक्रम सामने रखते हुए स्पष्ट किया कि तीनों बलों की औसत आयु कम करने के लिए इसे लागू करना जरूरी है।

बिहार में केंद्र सरकार की अग्निपथ योजना के विरोध में उपद्रव, धरना प्रदर्शन और आगजनी की वजह से रेलवे को भारी नुकसान पहुंचा है। इस वजह से पूर्व मध्य रेलवे अभी रात 8 से सुबह 4 बजे के बीच ही बिहार में ट्रेनों का संचालन कर रहा है। झारखंड में सोमवार को सभी स्कूल-कॉजेल बंद करने का आदेश जारी किया गया है।

By admin