No Widgets found in the Sidebar

हल्द्वानी में तीन जून से अब तक चौथी बार अधिकतम तापमान 40 डिग्री रिकॉर्ड किया गया है।पिछले कई सालों का रिकॉर्ड देखें तो जून माह में 13 जून 2012 को तापमान 42 डिग्री पहुंचा था।लगातार पारा बढता ही जा रहा है। पिछले एक सप्ताह में पारा छह डिग्री बढ गया है।

फिर 22 जून 2018 में तापमान 40.2 डिग्री सेल्सियस रहा। वहीं पर्वतीय क्षेत्र मुक्तेश्वर में भी अधिकतम तापमान 2015 में 30.2 डिग्री सेल्सियस था जो शनिवार को 29 डिग्री पार कर गया है। गर्मी के कारण लोग दोपहर को बाहर निकलने से परहेज कर रहे हैं। गर्मी की मार के कारण दिन के समय वाहनों का आवागमन भी कामी कम हो गया है।

पछुवादून में तापमान 40 डिग्री तक पहुंच गया है। जबकि चकराता क्षेत्र में एक दशक पहले पारा तीस डिग्री पहुंचा था। जिसके बाद अब पहली बार चकराता में 29.15 डिग्री तक तापमान पार कर चुका है और तीस डिग्री तक पहुंचने की दहलीज पर है।

गरमी के मारे पशु पक्षी भी अपने आशियानो से बाहर नहीं निकल पा रहे हैं। गरमी के मारे हा हाकार मचा हुआ है। कूलर, पंखे भी गरम हवायें छोड रहे हैं। जिससे घरों में लोग गरमी के मारे बेहाल हैं। पसीने से तर लोग तरबतर हो रहे हैं। गरमी के मौसम से निजात पाने के लिए लोग चकराता की वादियों में जाते हैं।

By admin