No Widgets found in the Sidebar

भारत की अनुभवी मुक्केबाज एमसी मैरीकॉम का सपना उस समय टूट गया जब वह बर्मिंघम कॉमनवेल्थ के लिए चल रहे ट्रायल मैच में चोटिल हो गई।इसी के साथ मैरी कॉम का बर्मिंघम में होने वाले राष्ट्रमंडल खेलों में पहुंचने का सपना टूट गया है।

नीतू फाइनल मुकाबले में मंजू रानी का सामना करते हुए 48 किलो वर्ग में राष्ट्रमंडल खेलों की अपनी सीट पक्की करना चाहेंगी।मैरी कॉम को घुटने में चोट लगी जिसके कारण छह बार की विश्व चैंपियन को मैच के बीच से ही रिंग को छोड़ना पड़ा।

मैरी कॉम 48 किग्रा भारवर्ग के सेमीफाइनल में पहुंची थी। ऐसे में अब वह कॉमनवेल्थ खेलों में हिस्सा नहीं खेल पाएंगी। वहीं मैरी कॉम की जगह अब हरियाणा की नीतू ने कॉमनवेल्थ खेलों के ट्रायल के जगह बना लिया। सबसे सफल भारतीय मुक्केबाज ने अगले महीने बर्मिंघम में होने वाले कॉमनवेल्थ खेलों पर ध्यान देने के लिए विश्व चैम्पियनशिप और एशियाई खेलों से नाम वापस ले लिया था।

 

By admin