No Widgets found in the Sidebar

विदेश मंत्री एस जयशंकर ने सोमवार को चेक रिपब्लिक  की राजधानी प्राग में भारतीय समुदाय के साथ बातचीत की। उन्होंने स्वदेश के घटनाक्रमों और द्विपक्षीय संबंधों पर चर्चा की। विदेश मंत्री की प्राग यात्रा इसलिए महत्वपूर्ण है कि चेक गणराज्य अगले माह से ईयू का अध्यक्ष बनने वाला है।

इस दौरान उन्होंने रूस-यूक्रेन युद्ध के कारण यूक्रेन में फंसे सभी भारतीय नागरिकों को वापस लाने के लिए मिशन ‘आपरेशन गंगा’ की सफलता की चर्चा की।

जयशंकर दो मध्य यूरोपीय देशों के साथ संबंधों को और गति देने के लिए स्लोवाकिया और चेक गणराज्य के अपने दो देशों के दौरे के अंतिम चरण में प्राग पहुंचे थे। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि भारतीय समुदाय से मिलकर खुशी हुई। उनमें से कई को इतना अच्छा काम करते हुए देखकर अच्छा लगा।

विदेश मंत्री 2 से 6 जून तक दो यूरोपीय देशों स्लोवाकिया और चेक रिपब्लिक के दौरे पर हैं। विदेश मंत्री ने 2 से 4 जून तक स्लोवाकिया का दौरा किया । उसके बाद 4 जून को चेक गणराज्य चले गए। अपनी यात्रा के दौरान, जयशंकर ने स्लोवाकिया के प्रधानमंत्री एडुआर्ड हेगर से मुलाकात की.

By admin