No Widgets found in the Sidebar

पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड में कुख्यात गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई ने पहली बार चुप्पी तोड़ी है. आईबी ने रोहिणी स्थित स्पेशल सेल के कार्यालय में  गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई से कई घंटे संयुक्त रूप से पूछताछ की। दिल्ली पुलिस की पूछताछ में लॉरेंस बिश्नोई ने कबूल किया कि हां हमारे गैंग मेंबर ने मूसेवाला को मरवाया है.

इसके साथ ही लॉरेंस बिश्नोई ने कहा कि कॉलेज के वक्त से विक्की मिददुखेड़ा मेरा बड़ा भाई था, हमारे ग्रुप ने उसकी मौत का बदला लिया है.लॉरेंस बिश्नोई के गिरोह में करीब 700 शूटरों व सदस्य हैं। इस वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि सिद्धू मूसेवाला की हत्या वाली जगह पर तीन तरह के खोले मिले हैं। बताए जा रहे हैं कि ये हथियार एके-47 भी नहीं है।

पुलिस अधिकारियों के अनुसार हो सकता है लॉरेंस बिश्नोई के पास हथियार बाहर से मंगाने व किसी बाहरी व्यक्ति की सिद्धू मूसेवाला की हत्या में भूमिका को लेकर इनपुट्स हो।वारदात में इस्तेमाल किए गए हथियार एके-47 से बड़े असलहे हैं।

तिहाड़ जेल में बंद गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई ने कहा, ‘ये काम इस बार मेरा नहीं है, क्योंकि मैं जेल में लगातार बंद था और फोन का इस्तेमाल नहीं कर रहा था, लेकिन मैं कबूल करता हूं कि सिद्धू मूसेवाला की हत्या में हमारे गैंग का हाथ है.’

By admin