No Widgets found in the Sidebar

भारत की युवा पुरुष हॉकी टीम ने शानदार प्रदर्शन करते हुए अंतिम क्वार्टर में छह गोल के साथ यहां इंडोनेशिया को 16-0 से हराकर एशिया कप हॉकी टूर्नामेंट के सुपर चार चरण के लिए क्वालीफाई किया।परिणामस्वरूप धारकों को एशिया कप के नॉकआउट चरण में ले जाया गया

इसके साथ ही पाकिस्तान की टीम ना सिर्फ टूर्नामेंट से बाहर हो गई बल्कि उसकी विश्व कप के लिए क्वालीफाई करने की उम्मीद भी टूट गई क्योंकि इस टूर्नामेंट से सिर्फ शीर्ष तीन टीम ही इस प्रतिष्ठित टूर्नामेंट में जगह बना पाएंगी।

परिणाम ने न केवल पाकिस्तान को टूर्नामेंट से बाहर कर दिया, बल्कि विश्व कप के लिए क्वालीफाई करने की उनकी उम्मीदों को भी धराशायी कर दिया क्योंकि यहां शीर्ष तीन टीमों को ही बड़े आयोजन के लिए टिकट दिया जाएगा।

भारत, मेजबान होने के नाते, वर्ष के अंत में विश्व कप खेलेगा और इसलिए हॉकी इंडिया ने युवा खिलाड़ियों को इस टूर्नामेंट में प्रदर्शन के लिए भेजने का फैसला किया।

भारत को इसके बाद लगातार तीन पेनल्टी कॉर्नर मिले जिसमें से अंतिम को दिपसान ने गोल में बदला। दिपसान ने 42वें मिनट में पेनल्टी स्ट्रोक पर अपना दूसरा गोल दागा। दिपसान दो पेनल्टी कॉर्नर पर गोल करने में नाकाम रहे लेकिन बेलिमागा ने दो मिनट में दो गोल दागे।

 

By admin