No Widgets found in the Sidebar

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण (ट्राई) के रजत जयंती समारोह में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए शिरकत की।इसके अलावा ये उनके प्रोडक्ट्स, प्रोटोटाइप और सॉल्यूशन को पांचवें जेनरेशन में वैलिडेट करेगा.

इस मौके पर प्रधानमंत्री ने डाक टिकट भी भेजा। इस कार्यक्रम में अन्य लोगों के साथ केंद्रीय आईटी और संचार मंत्री अश्विनी वाशिहानो भी उपस्थित थे। इस दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने भी कार्यक्रम को संबोधित किया।

इस कार्यक्रम में, प्रधान मंत्री मोदी ने IIT मद्रास के नेतृत्व में कुल 8 संस्थानों द्वारा बहु-संस्थागत सहयोग परियोजना के रूप में विकसित 5G परीक्षण बेड का भी शुभारंभ किया। परियोजना में भाग लेने वाले अन्य संगठनों में IIT दिल्ली, IIT हैदराबाद, IIT बॉम्बे, IIT कानपुर, IISc बैंगलोर, सोसाइटी फॉर एप्लाइड माइक्रोवेव इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियरिंग एंड रिसर्च (SAMEER) और सेंटर ऑफ एक्सीलेंस इन वायरलेस टेक्नोलॉजी (CEWiT) शामिल हैं।

आपको बता दें कि ट्राई की स्थापना 1997 में भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण अधिनियम, 1997 के माध्यम से हुई थी. दूरसंचार पर कंट्रोल के लिए इसकी स्थापनी की गई थी.

By admin