No Widgets found in the Sidebar

हाल ही में जापान में हाई हील पहनने के खिलाफ महिलाओं ने  नामक एक अभियान भी चलाया गया था। जिसका उद्देश्य महिलाओं को हाई हील पहनने वाले नियम को खत्म करना था।

अगर आपको भी पार्टी और फंक्शन्स में हील्स पहनना पसंद है, तो ऐसे में कुछ खास बातों का ख्याल रखना बेहद जरुरी है, जिससे आप खूबसूरत दिखने के साथ खुद को हेल्दी भी रख सकेगीं। चलिए आपको बताते हैं हील्स पहनने से होने वाली बीमारियां और उससे बचाने वाली सावधानियां…

टखने और पिंडलियां में समस्याएं :- हील पहनने की वजह से पैर अपनी प्राकृतिक स्थिति से कहीं अधिक कोण पर मुड़ जाते हैं। इस कारण पैरों और आस-पास के अंगो में रक्त संचार कम हो जाता है। लंबे समय तक हील पहनने से यह दबाव खून का सचार लगभग पूरी तरह रोक देता है.

पैर में समस्याएं :- व्यक्ति के पैरों की बनावट शरीर का भार सहने और उन्हें खड़ा रखने के हिसाब से बनाई गई है। पैर पूरे शरीर को संतुलित रखते हैं। पैरों की मदद से चलने, दौड़ने, उचकने आदि कामो में हड्डी के ढाँचे (कंकाल) को झटके झेलने और संतुलन बनाए रखने में मदद मिलती है। जितनी लंबी हील होती है, पैरों पर उतना ही दबाव पड़ता है।

घुटने में समस्याएं :- इंसान के शरीर में उसके घुटने सबसे बड़े जोड़ होते हैं। किसी शारीरिक काम में यह झुक कर एक शॉक एब्जॉर्बर (झटका सहन करने वाले) स्प्रिंग की तरह काम करते हैं। हाई हील से घुटनो पर अंदर की तरफ दबाव पड़ता है।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *